Featured India

इतिहास के सबसे रंगीन राजा जिनकी 365 पत्नियां और 88 बच्चे थे, नाम है चौकाने वाला

इतिहास के सबसे रंगीन राजा जिनकी 365 पत्नियां और 88 बच्चे थे, नाम है चौकाने वाला February 19, 2020Leave a comment

बचपन से हम पराक्रमी राजाओं की कहानियाँ सुनते आ रहे हैं. कई राजाओं की नाम इतिहास में दर्ज है. लेकिन कुछ राजाओं के रंगीन मिजाज़ी के किस्से भी बहुत है इनकी अय्याशी के चर्चे भी रहे हैं. अपने ही दरबार के दासियों के साथ रासलीला हो या किसी दुसरे राजा की रानी पर नज़र. एक ऐसे ही अय्याश राजा के बारे में कई सरे किस्से सुनने और पढ़ने को मिलते हैं. वो कोई और नहीं बल्कि पटियाला रियासत के महाराजा भूपिंदर सिंह. इनके कारनामें जानकर किसीका भी दिमाग चकरा जाएगा. इन महारथी के कारनामों के बारे में उनके ही दीवान जरमनी दास ने अपनी किताब में पूरा विवरण दिया है.


किताब के मुताबिक महाराजा भूपिंदर सिंह ने पटियाला में लीलाभवन नाम का एक महल बनवाया था . कई लोग इसे रंगरलियों का महल भी कहते हैं. महल का एक खास कमरा महाराजा के लिए सुरक्षित था उस कमरे की दीवारों पर चारों तरफ ऐसे चित्रों की भरमार थी. जिसमें महिला पुरुष प्रेम की रासलीला खेलने में लिप्त हैं. महल के बाहर एक स्विमिंग पूल भी बनवाया था. ये पूल इतना बड़ा था करीब 150 महिला और पुरुष एकसाथ नहा सकते थे. इसी स्विमिंग पूल में शानदार पार्टियां होती थीं जहां खुलेआम लोग अय्याशी करते थे.


अक्सर महाराजा पार्टियों का नियोजन करते थे जहाँ वो अपनी प्रेमिकाओं के साथ खुलेआम इश्क फ़रमाते दीखते थे. महाराजा महारानी नामक किताब जो बेस्ट सेलर रह चुकी है इस किताब में महाराजा की रंगरलियों के बारे में खुलकर लिखा गया है. महाराजा भूपिंदर सिंह का जन्म 12 अक्तूबर 1891 को हुआ था.

इन्होनें 38 सालों तक राज किया , इनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने 10 से ज़्यादा शादियां की थी. उनके करीब 88 बच्चे थे. मशहूर पटियाला पैग भी महाराजा भूपिंदर सिंह की ही देन है, किसे आज भी लोग बेहद पसंद करते हैं.