Featured Hindi India Lifestyle

आपके लिए ‘नौकरी’ सही है या ‘बिज़नेस,’ इस तरह करें फैसला!

सफलता पाने के लिए 'नौकरी' करें या 'बिज़नेस,' जानें!

आपके लिए ‘नौकरी’ सही है या ‘बिज़नेस,’ इस तरह करें फैसला! May 19, 2020Leave a comment

यह एक ऐसा प्रश्न है जिसका सामना हर व्यक्ति करता है. यहां तक कि वह भी अगर कोई व्यवसाय कर रहा है तो सोचता है कि मैं नौकरी कर लूं और अगर कोई नौकरी कर रहा है तो वह सोचता है मैं व्यवसाय कर लूं और कुछ इसी तरह की दुविधा उन लोगों के मन में भी है जिन्होंने अभी अभी पढ़ाई खत्म की है और वह सरकारी नौकरी प्राइवेट नौकरी या फिर खुद का व्यवसाय ऐसे प्रश्नों से जूझ रहे होंगे. मैं यहां आपको कोई सलाह नहीं दूंगा बल्कि नौकरी और व्यवसाय की अच्छी बुरी बातें बताऊंगा अब फैसला आपको करना है आप क्या करेंगे.


1. नौकरी:
नौकरी करने का फायदा यह है कि आप किसी को अपना हुनर भेजते हैं और बदले में बिना किसी जोखिम के पैसा कमाते हैं. जहां पर हर महीने एक निश्चित आय की गारंटी होती है और इसमें प्रतिदिन आप अपने हुनर को और अधिक विकसित करते हैं. इस तरह से साल दर साल आपकी आय में वृद्धि होती है. परंतु जैसे-जैसे आपकी उम्रर बढ़ने लगती है, आपकी कार्य करनेेेेेेेेे की क्षमता कम होने लगती है. ऐसी अवस्था अगर आप सरकारी या फिर किसी बड़े प्राइवेट संस्थान में कार्य नहीं कर रहे हैं तो फिर आपको अपनेे भविष्य चिंता होने लगती है और आपका भविष्य अनिश्चितता से भर जाता है. यह प्राइवेट नौकरी की सबसे बड़ी दुविधा है साथ ही हमेशा आपके मन में नौकरी जाने का खतरा बना रहता है .


2. व्यवसाय:
खुद का व्यवसाय करने से आप खुद मालिक होते हैं. आपको किसी भी बात के लिए किसी से पूछना नहीं पड़ता और ना ही किसी को जवाब देना पड़ता है. परंतु व्यवसाय का सबसेेेेेे बड़ा जोखिम भी यही है की इसमें अगर आप कोई भी निर्णय गलत लेते हैं तो आपको बहुत अधिक मात्रा में नुकसान उठाना पड़ सकता है. जिससे आपको आर्थिक, मानसिक नुकसान होता है. इसके साथ ही सबसे बड़ा खतरा पूंजी का होता है. जहां नौकरी में आपकी आय निश्चित थी वही व्यवसाय में अनिश्चित रहती हैं.