Entertainment Featured Hindi India News

9:9 मिनट पर ही दिया जलाने क्यों बोला पीएम मोदी ने, सामने आया ये राज़!

5 अप्रैल की रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीपक क्यों जलाया जाएगा, पढ़िए!

9:9 मिनट पर ही दिया जलाने क्यों बोला पीएम मोदी ने, सामने आया ये राज़! April 4, 2020Leave a comment

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एक वीडियो संदेश दिया। सबसे पहले उन्होंने देशवासियों को लॉक डाउन के भरपूर समर्थन के लिए जनता को धन्यवाद दिया उसके बाद उन्होंने जनता के नौ मिनट भी मांग लिए। पीएम मोदी ने वीडियो संबोधन में कहा कि पांच अप्रैल की रात नौ बजे नौ मिनट तक अपने घरों की लाइट बंद रखें और इस दौरान अपने घरों के दरवाजे पर या फिर बालकनी पर आकर रोशनी प्रज्वलित करें।

पांच अप्रैल की रात नौ बजे आपको अपने घरों पर सोशल डिस्टेंस को फॉलो करते हुए रोशनी करनी है। आपको ये नौ मिनट तक करना है। पीएम मोदी ने संदेश दिया कि हम सबको मिलकर कोरोना संकट के अंधकार को चुनौती देनी है। उसे प्रकाश की ताकत का परिचय करना है। पांच अप्रैल की रात नौ बजे आपको अपने घरों की लाइट बंद कर देनी है। इसके बाद घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलानी है। इस दौरान अगर आप दिया लिए हों तो इसको कहीं पर रख दें क्योंकि दिया थोड़ा जलने के बाद गर्म हो जाएगा और फिर ये हाथ से गिर सकता है। अगर आप बालकनी में दिया जलाते हैं तो आपको और भी ज्यादा सतर्क होना पडे़गा क्योंकि नीचे भी तमाम लोग मौजूद रहेंगे।

22 मार्च को जब पीएम मोदी ने ताली-थाली की अपील की थी कि तब लोगों ने अतिउत्साह में आकर सोशल डिस्टेंस को भुला दिया था। इस दौरान कई जगहों पर लोग इकट्ठा होकर जश्न मनाने लगे थे। इस बार आपको इस बात का ध्यान रखना है कि कही भी इकट्ठा नहीं होना है। अपने घरों पर रहकर दरवाजे या बालकनी पर आपको रोशनी करनी है। घर के सदस्यों से भी जितना हो सके उतनी दूरी बनाकर रखें।

पिछली बार जब पीएम मोदी ने ताली और थाली बजाने की अपील की थी तो लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था। लेकिन वो उन लोगों के लिए था जो कोरोना को हराने के लिए जुटे हुए हैं। इस बार पीएम मोदी ने जो रोशनी की बात कही है ये हर एक देशवासी के लिए है। पिछले काफी दिनों से लोग अपने घरों पर कैद हैं। पीएम मोदी की इस पहल का उद्देश्य है लोगों को ये समझाना है कि इस लड़ाई में पूरा देश उनके साथ है। मानव जीवन में नकारात्मक ऊर्जा के उन्मूलन के लिए प्रकाश एक महत्वपूर्ण उपकरण है। प्रकाश की लौ न केवल बाहरी अंधकार को दूर करती है, बल्कि मन की दूरी को भी नष्ट करती है। आइए हम प्रधानमंत्री के इस संदेश को एक साथ बढ़ाएं और 5 अप्रैल को इसे चमकने दें!


इससे पहले पीएम मोदी ने 22 मार्च की रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित किया था। इस दौरान उन्होंने लोगों से अपील की थी कि कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे वो सभी लोग जो अपने घरों से दूर 24-24 घंटे लोगों की मदद कर रहे हैं उनका सम्मान और उत्साहवर्धन करें। जिसके लिए उन्होंने ताली और थाली बजाने की अपील की थी लेकिन इसकी आड़ में कई जगह सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ा दी गईं। अलग-अलग शहरों से ऐसी तस्वीरें आईं जहां पर लोग इकट्ठा होकर नाच गाना करने लगे।