Entertainment Featured Hindi Lifestyle News

मोदी जी ने फिर किया करिश्मा, यह रिकॉर्ड बनाने वाले बने पहिले विश्वनेता!

'कोरोना' के संकट में मसीहा बने PM मोदी, बनाया यह नया रिकॉर्ड!

मोदी जी ने फिर किया करिश्मा, यह रिकॉर्ड बनाने वाले बने पहिले विश्वनेता! April 16, 2020Leave a comment

दोस्तों आपको जानकर भी यह खुशी होगी कि हमारे माननीय पीएम नरेंद्र मोदी जी ने पूरी दुनिया का रिकॉर्ड तोड़ दिया है और वह पहले ऐसे एक नेता बन पाये हैं जिन्होंने यह रिकॉर्ड तोड़ा है।अब तो आपके मन मे भी यह प्रश्न उठ रहा होगा कि आखिर ऐसा क्या किया होगा हमारे माननीय पीएम नरेंद्र मोदी जी ने तो आइये जानते है आखिर पीएम मोदी ने क्या रिकॉर्ड तोड़ा है ।

आप सबको याद ही होगा की कुछ दिन पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी से अपील की थी कि वह भारत से दवाइयों का निर्यात शुरू करें और अमेरिका की इस मुसीबत की घड़ी में मदद करें ।
अमेरिका की एक अपील पर हमारे पीएम मोदी जी ने फोरन दवाईयों के निर्यात से प्रतिबंद्ध हटाया और अमेरिका की मांगी हुई दवाईयों को तुरंत भारत से अमेरिका भिजवाया ताकि वहां के लोगो की इस मुशकिल भरे समय मे मदद की जा सके
मोदी जी के इस मानवीय पहलू को देखते हुये अमेरिका के राष्ट्रपति हाउस अर्थात व्हाइट हाउस ने मोदी जी की काफी प्रशंसा की और मोदी जी की इस पहल को देखते हुये पूरी दुनिया मोदी जी के प्रशंसक बन गयी है।अमेरिका का व्हाइट हाउस मोदी जी के इस कदम से इतना प्रभावित हुआ कि वह अब मोदी जो को ट्विटर पर भी फॉलो करने लगे है ।

अमेरिका के व्हाइट हाउस का मोदी जी को ट्विटर पर फॉलो करना कोई साधारण सी बात नही है।क्योंकि अमेरिका का व्हाइट हाउस सिर्फ 19 एकाउंट ही फॉलो करता है जिसमे से 16 एकाउंट तो सिर्फ अमेरिका के ही हैं बाकी तीन एकाउंट भारत के हैं जिसमे एक है प्राइम मिनिस्टर हाउस ऑफ इंडिया ,दूसरा राष्ट्रपति हाउस ऑफ इंडिया और तीसरा एकाउंट है हमारे पीएम मोदी जी का।
पीएम मोदी जी पूरी दुनिया के एकमात्र ऐसे नेता है जिन्हें सबसे शक्तिशाली वाइट हाउस भी पर्सनली फॉलो करता है अर्थात पूरी दुनिया का कोई भी ऐसा नेता नही है जिसे अमेरिका का व्हाइट हाउस फॉलो करता हो।

मोदी जी का दवाईयों को अमेरिका के जरूरतमंद लोगों को भेजना वाके ही एक सराहनीय कदम है जिससे केवल अमेरिका में ही नही पूरे वर्ल्ड में मोदी जी की काफी सराहना हो रही है।मोदी जी के इस मानवीय कदम से भारत का नाम ओर रोशन हुआ और आगे भी रोशन होता रहे।